Skip to main content

Posts

Showing posts with the label wife

Wife - पत्नी जीवन संगनी का रूप है

पत्नी क्या है  - नीचे पढ़ो नीचे  पत्नी वो शख्सियत है   जो अपने माता पिता को छोड़ कर  अपने पति के माता पिता को अपनाती है।  जो अपना घर त्याग कर  अपने पति के घर को अपनाती है।  जो अपने  बचपन  के अल्हड़पन  छोड़ कर   अपनी सूझ बुझ से जवानी को अपनाती है।  जो अपने सारे दुःख भूल कर  पति के दुःख को अपनाती है।    जो अपने दोस्तों का साथ छोड़ कर  अपने पति को दोस्त के रूप में अपनाती है।  जो अपने बहते अश्को को रोककर   अपनी मजबूरिया छिपाती है।   जो अपने पति की खुशियों के लिए  सारे जग से लड़ जाती है।  जो छोटे से सपने लेकर  अपने पति के घर को स्वर्ग बनाती है।  जो अपने ख्वाब भूलकर  अपने  जीवन को पति और बच्चो पर न्यौछावर करती है।    जो पति के गमो को  बिन बोले समझ जाती है।  जो पति के जीवन का वह हिस्सा है जिसे हम जीवन संगनी के रूप में  जानते है।   पत्नी रात में अमावस का चाँद है  तो सुबह सूरज की पहली किरण लगती है।    हर कोई पत्नी की खामिया तो गिनवा देता है  पर पत्नी की कोई खुबिया नहीं गिनवाता है।  पत्नी पर जोक तो हर कोई बना देता है  पर पत्नी की हिम्मत को कोई नहीं दिखाता है।  Kalyug Chnaged is everythings यह कविता उन